Forgot your password?

Enter the email address for your account and we'll send you a verification to reset your password.

Your email address
Your new password
Cancel
'हीरा है सदा के लिए।' यह बात तो सच है कि हीरा हमेशा एक ही जैसा रहता है। आज कल हीरे की ज्वेलरी पहनना बहुत फैशन में है। लोग चाहे एक रिंग ही पहने पर असली हीरे की ही पहनना चाहते है। हीरा अहमियत ही ऐसी रखता है। पर असली हीरे की कीमत इतनी होती है कि हर कोई उसको अफ़्फोर्ड नहीं कर सकता। पर अब ऐसा हीरा बन रहा है जो सभी के बजट में आएगा।पर ऐसा कैसे हीरा तो खादान में से निकलता है एक नैचरली बनने वाला एलिमेंट है वो कैसे बनाया जा सकता है तो ऐसा मुमकिन हुआ है ब्रिटेन में।
ब्रिटेन की एक लैब में असली हीरे की तरह दूसरा हीरा भी तैयार किया जा रहा है। सिंथेथिक हीरे का स्टोर, डी बियर्स कंपनी ने खोला है। जिसमें इंसानों के हाथो बनाया गया हीरा बिकेगा। ये हीरा असली हीरे की ही तरह दिखेगा असली हीरा तो कार्बन से बनता है पर कई सालो की मेहनत केमिकल से प्लाज़्मा बॉल बनायी गयी है। इसकी पहचान भी एक ख़ास तरह की मशीन से की जायेगी।हीरे के साथ साथ कई कीमती पत्थरो को भी सिंथेटिक तरीके से बनाया जा रहा है।
यह पत्थर और हीरे की कीमत 13000 रुपए पर कैरेट बतायी जा रही है जो युथ जनरेशन के लियर ख़ास बनाया जा रहा है। जब से इस हीरे के बनने की खबर चारो तरफ फैली है तब से असली हीट की कीमत में गिरावट आयी है।पॉल जिम्निस्कि जो इंडस्ट्री एनालिस्ट है कहते है इस नए हीरे के बनने की वजह से असली हीरे की कीमत में 38 परसेंट कमी आ सकती है।जबकि असली हीरा व्यापारी का,जिन में से लंदन के डायमंड मर्चेंट ,एल ड्रेक का भी है कहना है कि इस नए हीरे के बनने से जो बहुत नुक्सान होगा और उनको भी असली हीरे की कीमतें कम करनी होगी।
ऐसी रोचक और अनोखी न्यूज़ स्टोरीज़ के लिए गूगल स्टोर से डाउनलोड करें Lopscoop एप, वो भी फ़्री में और कमाएं ढेरों कैश वो भी आसानी से
YOUR REACTION
  • 0
  • 0
  • 0
  • 0
  • 0
  • 0

Add you Response

  • Please add your comment.